Best Life Shayari in Hindi | ज़िन्दगी शायरी

Here we present a collection of best life Shayari in Hindi. You can share these Shayari on social media like Facebook, Twitter, Instagram, and Pinterest.

Life Shayari in Hindi

Life Shayari in Hindi
Life Shayari in Hindi

देखा है ज़िंदगी को कुछ इतने क़रीब से,
चेहरे तमाम लगने लगे हैं अजीब से।

जो पढ़ा है उसे जीना ही नहीं है मुमकिन,
ज़िंदगी को मैं किताबों से अलग रखता हूँ।

इक टूटी-सी ज़िंदगी को समेटने की चाहत थी,
न खबर थी उन टुकड़ों को ही बिखेर बैठेंगे हम।

Best Shayari On Life in Hindi

Best Shayari On Life in Hindi
Best Shayari On Life in Hindi

तु कितनी भी खुबसुरत क्यूँ ना हो एे ज़िंदगी.
खुशमिजाज़ दोस्तों के बगैर अच्छी नहीं लगती

कभी ख़िरद कभी दीवानगी ने लूट लिया,
तरह तरह से हमें ज़िंदगी ने लूट लिया।

ए ज़िन्दगी तू मुझे उड़ना सिखा दे,
मुझे हालातों से लड़ना सिखा दे,
हर हाल में खुश रहना सिखा दे,
और हर हार से तू मुझे जीतना सिखा दे।

Deep Shayari on Life

Deep Shayari on Life
Deep Shayari on Life

मेरी खामोशियों में भी फसाना ढूँढ लेती है,
बड़ी शातिर है दुनिया मजा लेने का बहाना ढ़ूँढ लेती है।

जिंदगी में अपनापन तो हर कोई
दिखाता है… पर अपना कौन ??
ये वक्त बताता है..।।

फिक्र है सबको खुद को सही साबित करने की,
जैसे ये ज़िंदगी, ज़िंदगी नहीं, कोई इल्जाम है।

Good Shayari on Life

Good Shayari on Life
Good Shayari on Life

मुस्कुराओ क्या गम है,
जिंदगी में टेंशन किसको कम है,
अच्छा या बुरा तो केवल भ्रम है,
जिंदगी का नाम ही.. कभी खुशी कभी गम है!!

ख़्वाबों पर इख़्तियार न यादों पे ज़ोर है,
कब ज़िंदगी गुज़ारी है अपने हिसाब में।

ज़िन्दगी… बहुत खूबसूरत है,
कभी हंसाती है, तो कभी रुलाती है,
लेकिन जो ज़िन्दगी की भीड़ में खुश रहता है,
ज़िन्दगी उसी के आगे सिर झुकाती है।

Inspirational Shayari on Life

Inspirational Shayari on Life
Inspirational Shayari on Life

हमने तो जिंदगी की बहुत सी खुशियों को बर्बाद किया है,
तब हमने दर्द में मुस्कुराने का हुनर आबाद किया है।

जिंदगी में ये हुनर भी आजमाना चाहिए
अपनों से अगर हो जंग तो हार जाना चाहिए

अकेले ही काटना है मुझे ऐ जिन्दगी का सफर,
यूँ पल-दो-पल साथ चलकर मेरी आदत खराब न करो।

Life Shayari Images

Life Shayari Images
Life Shayari Images

समंदर न सही पर एक नदी तो होनी चाहिए,
तेरे शहर में ज़िंदगी कहीं तो होनी चाहिए।

हजारों उलझनें राहों में और कोशिशें बेहिसाब,
इसी का नाम है ज़िन्दगी चलते रहिये जनाब।

धूप में निकलो घटाओं में नहा कर देखो,
ज़िंदगी क्या है किताबों को हटा कर देखो।

ज़िन्दगी पल-पल ढलती है, जैसे रेत मुट्ठी से फिसलती है…!!
शिकवे कितने भी हो हर पल, फिर भी हँसते रहना…!!
क्योंकि ये ज़िन्दगी जैसी भी है, बस एक ही बार मिलती है..!!

Also check:

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular