Painful Shayari - Dard Shayari in Hindi | दर्द भरी हिंदी शायरी - List Bark
May 26, 2020
Painful Shayari

Painful Shayari – Dard Shayari in Hindi | दर्द भरी हिंदी शायरी

You can use our exclusive collection of Painful Shayari in Hindi (दर्द भरी शायरी) to send on Whatsapp, Twitter, Facebook or Instagram. So enjoy all pyar ka dard shayari without any limit.

Painful Shayari in Hindi

Painful Shayari in Hindi

Painful Shayari in Hindi

Dard Bhari Shayari, Dard Ka Hisaab

Agar Mohabbat Ki Hadd Nahin Koi,
Toh Dard Ka Hisaab Kyun Rakhoon.

अगर मोहब्बत की हद नहीं कोई,
तो दर्द का हिसाब क्यूँ रखूं।

Naseehat Achchi Deti Hai Duniya,
Agar Dard Kisi Ghair Ka Ho.

नसीहत अच्छी देती है दुनिया,
अगर दर्द किसी ग़ैर का हो।

Dard Shayari, Dard Ka Anjaam

Gulshan Ki Baharon Pe Sar-e-Shaam Likha Hai,
Phir Uss Ne Kitabon Pe Mera Naam Likha Hai,
Yeh Dard Isee Tarah Meri Duniya Mein Rahega,
Kuchh Soch Ke Uss Ne Mera Anjaam Likha Hai.

गुलशन की बहारों पे सर-ए-शाम लिखा है,
फिर उस ने किताबों पे मेरा नाम लिखा है,
ये दर्द इसी तरह मेरी दुनिया में रहेगा,
कुछ सोच के उस ने मेरा अंजाम लिखा है।

Dard Bhari Shayari, Kuchh Dard Hain

Khamoshyian Kar Deti Bayaan Toh Alag Baat Hai,
Kuchh Dard Hain Jo Lafzo Mein Utaare Nahi Jate.

खामोशियाँ कर देतीं बयान तो अलग बात है,
कुछ दर्द हैं जो लफ़्ज़ों में उतारे नहीं जाते।

Aankhon Mein Umad Aata Ha Baadal Ban Kar,
Dard Ehsaas Ko Banjar Nahi Rahne Deta.

आँखों में उमड़ आता है बादल बन कर,
दर्द एहसास को बंजर नहीं रहने देता।

Dard Shayari, Dard Marta Nahi Hai

Roj Pilata Hu Ek Zeher Ka Pyala Use,
Ek Dard Jo Dil Mein Hai Marta Hi Nahi Hai.

रोज़ पिलाता हूँ एक ज़हर का प्याला उसे,
एक दर्द जो दिल में है मरता ही नहीं है।

Dard Mohabbat Ka Ai Dost Bahut Khoob Hoga,
Na Chubhega.. Na Dikhega.. Bas Mahsoos Hoga.

दर्द मोहब्बत का ऐ दोस्त बहुत खूब होगा,
न चुभेगा.. न दिखेगा.. बस महसूस होगा।

Dard Shayari, Bhari Mahafil Mein

Bheed Mein Bhi Tanha Rahna Mujhko Sikha Diya
Teri Mohabbat Ne Duniya Ko Jhootha Kahna Sikha Diya,
Kisi Dard Ya Khushi Ka Ehsaas Nahin Hai Ab To,
Sab Kuchh Zindagi Ne Chup-Chaap Sahna Sikha Diya.

भीड़ में भी तन्हा रहना मुझको सिखा दिया,
तेरी मोहब्बत ने दुनिया को झूठा कहना सिखा दिया,
किसी दर्द या ख़ुशी का एहसास नहीं है अब तो,
सब कुछ ज़िन्दगी ने चुप-चाप सहना सिखा दिया।

Kahin Main Shayar Na Ban Jaaun

Ab Bas Bhi Kar Zalim, Kuchh Toh Raham Kha Mujh Par,
Chali Ja Meri Najar Se Dur Kahin Main Shayar Na Ban Jaaun.

अब बस भी कर ज़ालिम, कुछ तो रहम खा मुझ पर,
चली जा मेरी नज़र से दूर कहीं मैं शायर ना बन जाऊं।

Kis Se Paimane Wafa Baandh Rahi Hai Bulbul,
Kal Na Pehchan Sakegi Gul-e-Tar Ki Surat.

किससे पैमाने वफ़ा बाँध रही है बुलबुल,
कल न पहचान सकेगी गुल-ए-तर की सूरत।

Ek Naya Dard

Kya Baat Sikhai Hai Tajurve Ne Hame…
Ek Naya Dard Hi Purane Dard Ki Dawayi Hai.

एक बात सिखाई है… ताजुर्वे ने हमें,
एक नया दर्द ही पुराने दर्द की दवा है।

Dil Bekarar Mat Karo

Jamane Me kisi Par Aitbaar Mat Karna,
Kisi Ki Chahat Mein Dil Bekarar Mat Karo,
Ya To Haunsla Rakho Dard-E-Dil Sahne Ka,
Ya Phir Kisi Se Ishq Mat Karo.

ज़माने में किसी पर ऐतबार मत करना,
किसी की चाहत में दिल बेकरार मत करो,
या तो हौंसला रखो दर्द-ए-दिल सहने का,
या फिर किसी से इश्क मत करो।

Dard Shayari, Teri Mohabbat Mein

Teri Mohabbat Mein Ham Baithen Hain Chot Khay,
Jiska Hisab Na Ho Sake Utne Dard Hamne Paye,
Phir Bhi Tere Pyar Ki Kasam Khake Kahta Hoon,
Hamare Lab Par Tere Liye Sirf Aur Sirf Dua Aaye.

तेरी मोहब्बत में हम बैठें हैं चोट खाए,
जिसका हिसाब न हो सके उतने दर्द हमने पाये,
फिर भी तेरे प्यार की कसम खाके कहता हूँ,
हमारे लब पर तेरे लिये सिर्फ और सिर्फ दुआ आये।

Dard Shayari, Humein Dard Tab Hua

Takleef Ye Nahin Ke Tumhein Azeez Koi Aur Hai,
Dard Tab Hua Jab NajarAndaz Koye Gaye.

तकलीफ ये नहीं कि तुम्हें अज़ीज़ कोई और है,
दर्द तब हुआ जब हम नजरंदाज किए गए।

Apna Koi Mil Jata Toh Hum Phoot Ke Ro Lete,
Yehan Sab Ghair Hain Toh Hans Ke Gujar Jayegi.

अपना कोई मिल जाता तो हम फूट के रो लेते,
यहाँ सब गैर हैं तो हँस के गुजर जायेगी।

Painful Shayari, Dard Mein Izafa

Aur Bhi Kar Deta Hai Mere Dard Mein Izafa,
Tere Rahte Huye Ghairon Ka Dilaasa Dena.

और भी कर देता है मेरे दर्द में इज़ाफ़ा,
तेरे रहते हुए गैरों का दिलासा देना।

Sab So Gaye Apna Dard Apno Ko Suna Ke,
Koi Hota Mera To Mujhe Bhi Neend Aa Jaati.

सब सो गए अपना दर्द अपनों को सुना के,
कोई होता मेरा तो मुझे भी नींद आ जाती।

Mita Dete Tere Diye Har Dard Ko

Har Zakhm Kisi Thokar Ki Meharbani Hai,
Meri Zindagi Ki Bas Yahi Ek Kahani Hai,
Mita Dete Tere Diye Har Dard Ko Seene Se,
Par Ye Dard Hi To Usaki Aakhiri Nishani Hai.

हर ज़ख़्म किसी ठोकर की मेहरबानी है,
मेरी ज़िंदगी की बस यही एक कहानी है,
मिटा देते तेरे दिए हर दर्द को सीने से,
पर ये दर्द ही तो उसकी आखिरी निशानी है।

Dard Shayari, Dard Be Asar Mera

Manzilon Se Begana Aaj Bhi Safar Mera,
Hai Raat Besahar Meri Dard BeAsar Mera.

मंजिलों से बेगाना आज भी सफ़र मेरा,
है रात बेसहर मेरी दर्द बेअसर मेरा।

Ab Toh Haathon Se Lakeerein Bhi Miti Jati Hain,
Usey Khokar Mere Paas Raha Kuchh Bhi Nahi.

अब तो हाथों से लकीरें भी मिटी जाती हैं,
उसे खोकर मेरे पास रहा कुछ भी नहीं।

Dard Bhari Shayari Hindi

Ise Ittefaak Samajho Ya Dard Bhari Hakeekat,
Aankh Jab Bhi Nam Hui Wajah Koi Apna Hi Tha.

इसे इत्तेफाक समझो या दर्द भरी हकीकत,
आँख जब भी नम हुई वजह कोई अपना ही था।

Jo Taar Se Nikli Hai Wo Dhun Sabne Suni Hai,
Jo Saaz Par Beeti Hai Wo Dard Kis Dil Ko Pata.

जो तार से निकली है वो धुन सबने सुनी है,
जो साज़ पर बीती है वो दर्द किस दिल को पता।

Dard Bhari Shayari, Dard Ka Hisaab

Agar Mohabbat Ki Hadd Nahin Koi,
Toh Dard Ka Hisaab Kyun Rakhoon.

अगर मोहब्बत की हद नहीं कोई,
तो दर्द का हिसाब क्यूँ रखूं।

Naseehat Achchi Deti Hai Duniya,
Agar Dard Kisi Ghair Ka Ho.

नसीहत अच्छी देती है दुनिया,
अगर दर्द किसी ग़ैर का हो।

Dard Shayari, Dard Ka Anjaam

Gulshan Ki Baharon Pe Sar-e-Shaam Likha Hai,
Phir Uss Ne Kitabon Pe Mera Naam Likha Hai,
Yeh Dard Isee Tarah Meri Duniya Mein Rahega,
Kuchh Soch Ke Uss Ne Mera Anjaam Likha Hai.

गुलशन की बहारों पे सर-ए-शाम लिखा है,
फिर उस ने किताबों पे मेरा नाम लिखा है,
ये दर्द इसी तरह मेरी दुनिया में रहेगा,
कुछ सोच के उस ने मेरा अंजाम लिखा है।

Dard Bhari Shayari, Kuchh Dard Hain

Khamoshyian Kar Deti Bayaan Toh Alag Baat Hai,
Kuchh Dard Hain Jo Lafzo Mein Utaare Nahi Jate.

खामोशियाँ कर देतीं बयान तो अलग बात है,
कुछ दर्द हैं जो लफ़्ज़ों में उतारे नहीं जाते।

Aankhon Mein Umad Aata Ha Baadal Ban Kar,
Dard Ehsaas Ko Banjar Nahi Rahne Deta.

आँखों में उमड़ आता है बादल बन कर,
दर्द एहसास को बंजर नहीं रहने देता।

Dard Shayari, Dard Marta Nahi Hai

Roj Pilata Hu Ek Zeher Ka Pyala Use,
Ek Dard Jo Dil Mein Hai Marta Hi Nahi Hai.

रोज़ पिलाता हूँ एक ज़हर का प्याला उसे,
एक दर्द जो दिल में है मरता ही नहीं है।

Dard Mohabbat Ka Ai Dost Bahut Khoob Hoga,
Na Chubhega.. Na Dikhega.. Bas Mahsoos Hoga.

दर्द मोहब्बत का ऐ दोस्त बहुत खूब होगा,
न चुभेगा.. न दिखेगा.. बस महसूस होगा।

Dard Shayari, Bhari Mahafil Mein

Bheed Mein Bhi Tanha Rahna Mujhko Sikha Diya
Teri Mohabbat Ne Duniya Ko Jhootha Kahna Sikha Diya,
Kisi Dard Ya Khushi Ka Ehsaas Nahin Hai Ab To,
Sab Kuchh Zindagi Ne Chup-Chaap Sahna Sikha Diya.

भीड़ में भी तन्हा रहना मुझको सिखा दिया,
तेरी मोहब्बत ने दुनिया को झूठा कहना सिखा दिया,
किसी दर्द या ख़ुशी का एहसास नहीं है अब तो,
सब कुछ ज़िन्दगी ने चुप-चाप सहना सिखा दिया।

Kahin Main Shayar Na Ban Jaaun

Ab Bas Bhi Kar Zalim, Kuchh Toh Raham Kha Mujh Par,
Chali Ja Meri Najar Se Dur Kahin Main Shayar Na Ban Jaaun.

अब बस भी कर ज़ालिम, कुछ तो रहम खा मुझ पर,
चली जा मेरी नज़र से दूर कहीं मैं शायर ना बन जाऊं।

Kis Se Paimane Wafa Baandh Rahi Hai Bulbul,
Kal Na Pehchan Sakegi Gul-e-Tar Ki Surat.

किससे पैमाने वफ़ा बाँध रही है बुलबुल,
कल न पहचान सकेगी गुल-ए-तर की सूरत।

Ek Naya Dard

Kya Baat Sikhai Hai Tajurve Ne Hame…
Ek Naya Dard Hi Purane Dard Ki Dawayi Hai.

एक बात सिखाई है… ताजुर्वे ने हमें,
एक नया दर्द ही पुराने दर्द की दवा है।

Dil Bekarar Mat Karo

Jamane Me kisi Par Aitbaar Mat Karna,
Kisi Ki Chahat Mein Dil Bekarar Mat Karo,
Ya To Haunsla Rakho Dard-E-Dil Sahne Ka,
Ya Phir Kisi Se Ishq Mat Karo.

ज़माने में किसी पर ऐतबार मत करना,
किसी की चाहत में दिल बेकरार मत करो,
या तो हौंसला रखो दर्द-ए-दिल सहने का,
या फिर किसी से इश्क मत करो।

Dard Shayari, Teri Mohabbat Mein

Teri Mohabbat Mein Ham Baithen Hain Chot Khay,
Jiska Hisab Na Ho Sake Utne Dard Hamne Paye,
Phir Bhi Tere Pyar Ki Kasam Khake Kahta Hoon,
Hamare Lab Par Tere Liye Sirf Aur Sirf Dua Aaye.

तेरी मोहब्बत में हम बैठें हैं चोट खाए,
जिसका हिसाब न हो सके उतने दर्द हमने पाये,
फिर भी तेरे प्यार की कसम खाके कहता हूँ,
हमारे लब पर तेरे लिये सिर्फ और सिर्फ दुआ आये।

Dard Shayari, Humein Dard Tab Hua

Takleef Ye Nahin Ke Tumhein Azeez Koi Aur Hai,
Dard Tab Hua Jab NajarAndaz Koye Gaye.

तकलीफ ये नहीं कि तुम्हें अज़ीज़ कोई और है,
दर्द तब हुआ जब हम नजरंदाज किए गए।

Apna Koi Mil Jata Toh Hum Phoot Ke Ro Lete,
Yehan Sab Ghair Hain Toh Hans Ke Gujar Jayegi.

अपना कोई मिल जाता तो हम फूट के रो लेते,
यहाँ सब गैर हैं तो हँस के गुजर जायेगी।

Painful Shayari, Dard Mein Izafa

Aur Bhi Kar Deta Hai Mere Dard Mein Izafa,
Tere Rahte Huye Ghairon Ka Dilaasa Dena.

और भी कर देता है मेरे दर्द में इज़ाफ़ा,
तेरे रहते हुए गैरों का दिलासा देना।

Sab So Gaye Apna Dard Apno Ko Suna Ke,
Koi Hota Mera To Mujhe Bhi Neend Aa Jaati.

सब सो गए अपना दर्द अपनों को सुना के,
कोई होता मेरा तो मुझे भी नींद आ जाती।

Mita Dete Tere Diye Har Dard Ko

Har Zakhm Kisi Thokar Ki Meharbani Hai,
Meri Zindagi Ki Bas Yahi Ek Kahani Hai,
Mita Dete Tere Diye Har Dard Ko Seene Se,
Par Ye Dard Hi To Usaki Aakhiri Nishani Hai.

हर ज़ख़्म किसी ठोकर की मेहरबानी है,
मेरी ज़िंदगी की बस यही एक कहानी है,
मिटा देते तेरे दिए हर दर्द को सीने से,
पर ये दर्द ही तो उसकी आखिरी निशानी है।

Dard Shayari, Dard Be Asar Mera

Manzilon Se Begana Aaj Bhi Safar Mera,
Hai Raat Besahar Meri Dard BeAsar Mera.

मंजिलों से बेगाना आज भी सफ़र मेरा,
है रात बेसहर मेरी दर्द बेअसर मेरा।

Ab Toh Haathon Se Lakeerein Bhi Miti Jati Hain,
Usey Khokar Mere Paas Raha Kuchh Bhi Nahi.

अब तो हाथों से लकीरें भी मिटी जाती हैं,
उसे खोकर मेरे पास रहा कुछ भी नहीं।

Dard Bhari Shayari

Ise Ittefaak Samajho Ya Dard Bhari Hakeekat,
Aankh Jab Bhi Nam Hui Wajah Koi Apna Hi Tha.

इसे इत्तेफाक समझो या दर्द भरी हकीकत,
आँख जब भी नम हुई वजह कोई अपना ही था।

Jo Taar Se Nikli Hai Wo Dhun Sabne Suni Hai,
Jo Saaz Par Beeti Hai Wo Dard Kis Dil Ko Pata.

जो तार से निकली है वो धुन सबने सुनी है,
जो साज़ पर बीती है वो दर्द किस दिल को पता।

Also check:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *