Saturday, June 25, 2022
HomeShayari196 Breakup Shayari in Hindi For Boyfriend/Girlfriend

196 Breakup Shayari in Hindi For Boyfriend/Girlfriend [ब्रेकअप शायरी]

101. हर ज़ख़्म किसी ठोकर की मेहरबानी है,
मेरी ज़िन्दगी एक किस्सा एक कहानी है,
मिटा देते इस दर्द को दिल से,
पर ये दर्द भी तो किसी की आखरी निशानी है…!!

102. दरिया की देहलीज़ पे बैठी सोच रही है ये आँखें..!! कितना वक़्त लगेगा आखिर सारे ख्वाब बहने में..!!

103. ठुकराकर उसने मुझे कहा की मुस्कुराओ,
मैंने मुस्कुरा दिया,
आखिर सवाल उसकी ख़ुशी का था,
मैंने खोया वह जो मेरा नहीं था,
मगर उसने खोया वह जो उसी का था…

105. किस्मत ने जैसा चाहा वैसे ढल गए हम,
बहुत संभल के चले फिर भी फिसल गए हम,
किसी ने विश्वास तोडा तो किसी ने दिल,
और लोगों को लगा की बदल गए हम…

106. यदि कोई इंसान बेपनाह मोहब्बत कर सकता है,
तो नफरत भी कर सकता है क्योंकी,
जब एक खुबसूरत आईना टूटता है,
तो वह एक हथियार बन जाता है…

107. वो रो रो कर कहती रही मुझे नफरत है तुमसे,
मगर एक सवाल आज भी परेशान किए हुए है की,
इतनी ही नफरत थी तो वो इतना रोई क्यों…

108. जानकर भी हमे आप जान ना पाए,
आज तक आप हमे पहचान ना पाए,
खुद ही कर ली बेवफाई हमने आपसे,
ताकी आप पर बेवफाई का कोई इल्जाम ना आए…

109. इस दर्द के सिवा मुझे कुछ और क्यों ना मिला,
बेवफाई के सिवा कोई और सिला क्यों नही दिया,
हमने सिर्फ मोहब्बत की थी ए बेवफा,
तुमने तो अपना सब कुछ किसी और को बना लिया…

110. महफील मे हँसना मेरा मिजाज बन गया,
तन्हाई मे रोना एक राज बन गया,
दिल के दर्द को चेहरे से जाहिर ना होने दिया,
यही मेरे जीने का अंदाज बन गया…

111. आँखों मे आँसू आए ना होते,
जो पीछे मुडकर मुस्कुराए ना होते,
उनके जाने के बाद ये गम होता है,
काश वो जिंदगी मे कभी आए ना होते…

112. काँच का तोहफा ना देना कभी,
रूठकर लोग तोड दिया करते है,
जो बहुत अच्छे हो उनसे प्यार मत करना,
अक्सर अच्छे लोग ही दिल तोड दिया करते है…

113. कितना गहरा सच छुपा था उनकी बातों में,
जब वो कहते थे की तुम्हे तो हम अपना बना के ही छोड़ेंगे,
अपना भी बनाया……….और छोड़ भी दिया…

114. रास्ता इतना दुश्वार था,
बस मुझे मेरे प्यार पर विश्वास न था,
तू ही चल न सका मेरे साथ,
हमे तो जान देने से भी इंकार न था…

115. हर दिल में दर्द छुपा होता है,
बयाँ करने का अंदाज़ जुदा होता है,
कोई अश्कों से बहा देता है और,
किसी की हँसी में भी दर्द छुपा होता है…

116. बडी शिद्दत से कोशिश कर रहा हुँ,
अब मै तुम्हे भूलने की,
कभी बहुत दिल से दुवा करता था,
तुम्हे अपना बनाने की…

117. मौत मांगते है तो जिंदगी खफा हो जाती है,
जहर लेते है तो वह भी दवा हो जाती है,
तु ही बता ए दोस्त क्या करू,
जिसको भी चाहा वो बेवफा हो जाती है…

118. दिल से तेरी याद को जुदा तो नही किया,
रखा जो तुझे याद बुरा तो नही किया,
हम से लोग है नाराज किस लिए,
हम ने कभी जानकर किसी को खफा नही किया…

119. साँस थम जाती है पर जान नही जाती,
दर्द होता है पर आवाज नही आती,
अजीब लोग है इस जमाने मे ए दोस्त,
कोई भूल नही पाता और किसी को याद नही आती…

120. हर सीने मे एक दिल होता है,
हर दिल मे किसी का दर्द होता है,
ये दर्द सभी का अजीब होता है,
क्योंकी ये दर्द देनेवाला दिल के सबसे करीब होता है…

My Breakup Shayari

121. बडी हिम्मत दी है उनकी जुदाई ने,
ना ही किसी को खोने का डर है,
ना ही किसी को पाने की चाह…

122. कौन सा जख्म था जो ताजा ना था,
इतना गम मिलेगा अंदाजा ना था,
आपकी झील सी आँखों का क्या कसुर,
डूबनेवाले को ही गहराई का अंदाजा ना था…

123. मैंने ज़िन्दगी से कुछ नहीं माँगा तेरे सिवा,
और ज़िन्दगी ने मुझे सब कुछ दिया तेरे सिवा..!!

124. किसी ने हमे रुलाया तो क्या बुरा किया,
दिल को दुखाया तो क्या बुरा किया,
हम तो पहले से ही तनहा थे,
किसी ने एहसास दिलाया तो क्या बुरा किया…

125. कब साथ निभाते है लोग,
आसुओं की तरह बदल जाते है लोग,
वो जमाना और था लोग रोते थे गैरों के लिए,
आज तो अपनों को रुलाकर मुस्कुराते है लोग…

126. दिल के दर्द को दिल तोडनेवाले क्या जाने,
प्यार की रस्मो को ये जमानेवाले क्या जाने,
होती है कितनी तकलीफ कबर के निचे,
ये उपर से फूल चढानेवाले क्या जाने…

127. हर पल दिल मे एक ही शोर है,
घना अंधेरा मेरे चारो और है,
तेरे दर्द देने की एक ही वजह रही होगी,
तेरा मेरे सिवा भी कोई और है…

128. रह ना पाओगे भुलाकर देख लो,
यकीन ना आए तो आजमाकर देख लो,
हर जगह महसूस होगी मेरी कमी,
अपनी मेहफिल को कितना भी सजाकर देख लो…

129. इस जमाने मे कोई किसी का नही होता,
जो प्यार करता है वो जिंदगी भर रोता है,
जिसे चाहा था मैने अपना खुदा बनाके,
वो आज कहता है मुझे,
खुदा कभी किसी एक का नही होता…

130. जख्म जब मेरे सिने के भर जाएंगे,
आँसू भी मोती बनकर बिखर जाएंगे,
ये मत पूछना किस किस ने धोका दिया,
वरना कुछ अपनों के चेहरे उतर जाएंगे…

131. मत कर इतनी मोहब्बत ए दिल,
प्यार का दर्द सह ना पायेगा,
टूट जायेगा एक दिन अपनों के हाथ से,
किसने तोडा ये भी किसी से कह ना पायेगा…

132. सबने चाहा की उसे हम ना मिले,
हमने चाहा की उसे गम ना मिले,
अगर खुशी मिलती है उन्हे हमसे जुदा होके,
तो दुवा है की उन्हे हम ना मिले…

133. मेरे दिल की मजबूरी को कोई इल्जाम ना दे,
मुझे याद रख बेशक मेरा नाम ना ले,
तेरा वेहम है की मैने भुला दिया तुझे,
मेरी एक सांस ऎसी नही जो तेरा नाम ना ले…

134. खुदा अपनी खुदाई हर लम्हा दिखाता है,
तुम प्यार करो इसलिए दिल बनाता है,
प्यार की गहराइयों मे कहा तक डूबे हो ये देखने के लिए जुदा करके आजमाता है…

135. पहले उसने कहा की दुनिया प्यार से चलती है,
फिर कहा की दुनिया दोस्ती से चलती है,
लेकीन मैंने जब सब आज़माया तो पाया,
की दुनिया तो बस मतलब से चलती है…

136. पास आकर सभी दूर चले जाते है,
अकेले थे हम अकेले ही रह जाते है,
इस दिल का दर्द दिखाए किसे,
मरहम लगानेवाले ही जख्म दे जाते है…

137. कौन किसे दिल मे जगह देता है,
पेड भी सूखे पत्ते गिरा देता है,
वाकिफ है हम दुनिया के रिवाजों से,
दिल भर जाए तो हर कोई ठुकरा देता है…

138. सुना है प्यार करनेवाले अजीब होते है,
खुशी के बदले गम नसीब होते है,
मेरे दोस्त मोहब्बत ना करना कभी,
क्योंकी प्यार करनेवाले बडे बदनसीब होते है…

139. तेरे बिना मै यह दुनिया छोड तो दू,
पर उसका दिल कैसे दुखा दू,
जो रोज दरवाजे पर खडी कहती है,
बेटा घर जल्दी आ जाना…

140. शीशा और रिश्ता दोनो ही बडे नाजुक होते है,
दोनो में सिर्फ एक ही फर्क है,
शीशा गलती से टूट जाता है,
और रिश्ता गलतफहमी से टूट जाता है…

141. ना दर्द ने किसी को सताया होता,
ना आँखों ने किसी को रुलाया होता,
खुशी ही खुशी होती हर किसी के पास,
अगर बनानेवाले ने दिल ही ना बनाया होता…

142. कदर करनी है तो जीते जी करो,
अरथी उठाते वक्त तो नफरत करनेवाले भी रो पडते है…

143. हमे तो प्यार मे सिर्फ गम नसीब होते है,
जिसे अपना बनाना चाहा,
वो गैरों के करीब होते है,
प्यार मे मिली हो वफा जिसे ऐ यारो,
वो लोग भी कितने खुश नसीब होते है…

144. दिल तोडके जाने वाले सुन‚ मुझे तुझसे मोहब्बत आज भी है,
तुझे मेरी जरूरत नही तो क्या‚ मुझे तेरी जरूरत आज भी है…

145. जीते थे कभी हम भी शान से,
महक उठी थी फिजा किसीके नाम से,
पर गुजरे है हम कुछ ऎसे मुकाम से,
के नफरत सी हो गई है मोहब्बत के नाम से…

146. यकीन बनके लोग जिंदगी मे आते है,
ख्वाब बनके आँखों मे समा जाते है,
पहले तो ये यकीन दिलाते है की वो हमारे है,
फिर न जाने क्यों तनहा छोड जाते है…

147. धोखा दिया था जब तूने मुझे,
जिंदगीसे मै नाराज था,
सोचा की दिल से तुझे निकाल दू,
मगर कंबख्त दिल भी तेरे पास था…

148. प्यार किसी से जो करोगे रुसवाई ही मिलेगी,
वफा कर लो चाहे जितनी बेवफाई ही मिलेगी,
जितना भी किसी को अपना बना लो,
जब आँख खुलेगी तन्हाई ही मिलेगी…

149. मिलना इत्तेफाक था बिछडना नसीब था,
वो इतना दूर हो गया जितना वो मेरे करीब था,
हम उनको देखने के लिए तरस गए,
जिसकी हथेली पे हमारा नसीब था…

150. प्यार मे कोई तो दिल तोड देता है,
दोस्ती मे कोई तो भरोसा तोड देता है,
जिंदगी जीना तो कोई गुलाब से सीखे,
जो खुद टूट कर दो दिलो को जोड देता है…

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Popular Articles