Thursday, September 23, 2021
HomeShayari196 Breakup Shayari in Hindi For Boyfriend/Girlfriend

196 Breakup Shayari in Hindi For Boyfriend/Girlfriend [ब्रेकअप शायरी]

51. ठुकरा दे कोई तो दिल टूट जाता है,
टूट जाती है उम्मीदे जब कोई अपना समझ नही पाता है,
सच कहते है दुनिया वाले इंसान सबसे जीत कर अंत मे अपनों से हार जाता है…

52. जुबान खामोश और आँखों मे नमी होगी,
यही बस मेरी एक दास्तान ए जिंदगी होगी,
वैसे तो हर जख्म भर जायेगी,
कैसे भरेगी वह जगह जहाँ तेरी कमी होगी…

53. प्यार उसको मिलता है जिसकी तकदीर होती है,
बहुत कम हाँथो मे ये लकीर होती है,
कभी जुदा ना हो प्यार किसी का,
कसम खुदा की बहुत तकलीफ होती है…

54. दिल तो कहता है की,
छोड जाऊ ये दुनिया हमेशा के लिये,
फिर खयाल आता है,
की वो नफरत किससे करेंगे,
मेरे जाने के बाद…

55. काश वो नगमे हमे सुनाये ना होते,
आज उनको सुन के आँसू आये ना होते,
अगर इस तरह हमे भूल ही जाना था,
तो इतनी गहराई से दिल मे समाये ना होते…

56. हमने कभी किसी को आज़माया नहीं,
जितना प्यार दिया उतना कभी पाया नहीं,
किसी को हमारी भी कमी महसूस हो,
शायद ऐसा खुदा ने हमें बनाया नहीं…

57. इतना रुलाया किसी ने मुस्कुराना भूल गये,
दिल तोडके दिल लगाना भूल गये,
दुनिया ने इतने फरेब दिये रिश्तों के नाम पर,
अब किसी को अपना बनाना भूल गये…

58. उदास हूँ पर तुझसे नाराज नही,
तेरे दिल में हूँ पर तेरे पास नही,
झूठ कहू तो सब कुछ है मेरे पास,
और सच कहू तो तेरे सिवा कुछ खास नही…

59. कब तक रहोगे आखिर यूँ दूर दूर हम से,
मिलना पडेगा आखिर एक दिन जरूर हमसे,
दामन बिछानेवाले ये बेरुखी है कैसी,
कह दो अगर हुआ है कोई कसूर हमसे,
हम छोड़ देंगे तुमसे यूँ बात-चित करना,
तुम पुँछते फिरोगे अपना कसूर हमसे…

60. क्यों इतने करीब आ जाता है कोई,
क्यों मोहब्बत का एहसास दिलाता है कोई,
जब आदत सी हो जाती है दिल को किसी की,
तो क्यों हमे तनहा छोड़ कर चला जाता है कोई…

Breakup Sad Shayari

61. मोहब्बत करो तो इतनी शिद्दत से.. . . . . की वो छोड़ भी जाये,
किसी और का ना हो पाए…

62. हम तो तेरे दिल की महफिल सजाने आये थे,
तेरी कसम तुम्हे अपना बनाने आये थे,
किस बात की सजा दी तूने हमको,
बेवफा हम तो तेरे दर्द को अपनाने आये थे…

63. मेरे दिल को अब किसी से गिला नही,
मन से जिसे चाहा वो मिला नही,
बदनसीबी कहू या वक्त की बेवफाई,
अँधेरे में एक दीपक मिला वो भी जला नही…

64. मुझसे पूँछो की क्या होता है हर पल बिताना,
बडी तकलीफ होती है इस दिल को समझाना,
दोस्त जिंदगी तो ऐसी ही गुजर जायेगी,
पर बहुत मुश्किल होता है कुछ लोग को भूल पाना…

65. वो मुझसे दूर रहकर खुश है,
तो रहने दो उसे,
मुझे चाहत से ज्यादा उसका मुस्कुराना पसंद है…

66. जिंदगी की राहो मे इश्क ना मिले,
इस बेदर्द जमाने से कुछ ना मिले,
हम गम क्यो करे की वो हमे ना मिले,
अरे गम तो वो करे जिन्हें हम ना मिले…

67. खयालों मे आता है जब उसका चेहरा,
तो लबो पर अक्सर फरयाद आती है,
हम भूल जाते है उसके सारे सितम जब उसकी थोडी सी मोहब्बत याद आती है…

68. दिल मे तमन्नाओं को दबाना सिख लिया,
गम को आँखों मे छिपाना सिख लिया,
मेरे चेहरे से कही कोई बात जाहिर ना हो,
छुपा के दर्द को हमने मुस्कुराना सिख लिया…

69. ना दिल से होता है,
ना दिमाग से होता है,
ये प्यार तो इत्तेफ़ाक़ से होता है,
पर प्यार करके प्यार ही मिले,
ये इत्तेफ़ाक़ भी किसी-किसी के साथ ही होता है ।

70. आँसुओं तले मेरे सारे अरमान बह गए,
जिनसे उम्मीद लगाए बैठे थे वही बेवफा हो गए,
थी हमारी जिन चिरागों से उजाले की चाह,
वो चिराग न जाने किन अंधेरों में खो गए…

71. हमने भी किसी से प्यार किया था,
हाथों में फूल लेकर इंतज़ार किया था,
भूल उनकी नहीं भूल तो हमारी थी.. क्यों की उन्होंने नहीं,
हमने उनसे प्यार किया था..!!

72. कोई अच्छा लगे तो उनसे प्यार मत करना,
उनके लिए अपनी नींदे बेकरार मत करना,
दो दिन तो आएंगे खुशी से मिलने,
तीसरे दिन कहेंगे इंतजार मत करना…

73. ना वो सपना देखो जो टूट जाये,
ना वो हाथ थामो जो छूट जाये,
मत आने दो किसी को इतना करीब की,
उसके दूर जाने से इंसान खुद से रूठ जाये…

74. हमे भी प्यार करने का खयाल आया,
जब भी ये खयाल आया खुद को अकेला पाया,
ढूंढते रहे इस दुनिया मे हमसफर,
किसी को धोखेबाज और किसी को बेवफा ही पाया…

75. आज तेरी याद हम सीने से लगा के रोये,
तन्हाई मे तुझे पास बुला के हम रोये,
कही बार पुकारा इस दिल ने तुम्ह,
और हर बार तुम्हे ना पाकर हम रोये…

76. उसकी यादों को किसी कोने मे छुपा नहीं सकती,
उसके चेहरे की मुस्कान कभी भुला नहीं सकती,
मेरा बस चलता तो उसकी हर याद को भूल जाती,
लेकिन इस टूटे दिल को मैं समझा नहीं सकती…

77. आपकी इस दिल्लगी से हम अपना दिल जला बैठे,
जिस पे भरोसा था उसी से धोखा खा बैठे,
प्यार तो सुना था की पागल कर देता है,
पर इस तरह हुआ की हम अपना होश खो बैठे…

78. अगर इतनी ही नफरत है हमसे तो,
दिल से कुछ ऐसी दुआ करो,
की आज ही तुम्हारी दुआ भी पूरी हो जाये,
और हमारी ज़िन्दगी भी…!!

79. दिल को न जाने क्यों तोडा उसने,
बिच राह में ही साथ छोड़ा उसने,
जब ऐसे ही जाना था उनको,
तो फिर ये रिश्ता क्यों जोड़ा उसने…

80. मेरी मोहब्बत क्या रंग लायी है,
दूर दूर तक बस तन्हाई है,
हम जिए तो जिए कैसे,
वह क्या तेरी बेवफाई है…!

81. हमने वक़्त से बहुत वफ़ा की,
लेकिन वक़्त हमसे बेवफाई कर गया… कुछ तो हमारा नसीब बुरा था,
कुछ उनका हमसे जी भर गया…

82. बिखरे हुए रिश्ते की कीमत ही क्या,
जब तोड़नेवाला ही न जानता हो,
बेवफा से प्यार की उम्मीद ही क्या,
जब वो निभाना ही न जानता हो…

83. खुदा सलामत रखना उनको,
जो हमसे नफरत करते है,
प्यार न सही नफरत ही सही,
नफरत के बहाने वो हमे याद तो करते है…

84. उसको चाहा दिल-ओ-जान से पर इज़हार करना नही आया,
कट गयी सारी उम्र मगर हमे इश्क़ करना नही आया,
उसने हमसे कुछ माँगा भी तो माँग ली जुदाई,
इश्क़ मे उसके डूबे थे हम इस कदर की हमें इंकार करना नही आया…

85. मैंने कहा उनसे छोड दो या तोड दो मेरे दिलको,
मुस्कुरा कर सितम ढाया उन्होंने,
छोड तो दिया ही है तुमको,
दिल तुम्हारा खुद-ब-खुद टूट जाएगा…!!

86. प्यार किया तो बदनाम हो गए,
चर्चे हमारे सर ए आम हो गए,
ज़ालिम ने दिल भी उसी वक़्त तोडा,
जब हम उसके प्यार के गुलाम हो गए…

87. मेरी रूह मे ना समाते तो भूल जाते तुझे,
तुम इतना पास ना आते तो भूल जाते तुझे,
ये कहते हुए मेरा तुम से कोई ताल्लुक़ नही,
आँखों मे आँसू ना आते तो भूल जाते तुझे…

88. भीड मे थी,
ना रो सकी होगी,
मगर यकीन है सुबह तक ना सो सकी होगी,
वो शख्स जिसे समझने मे मुझे उम्र लगी,
बिछड के मुझसे किसी की ना हो सकी होगी…

89. वफा जिनसे की बेवफा हो गए,
वो वादे मोहब्बत के क्या हो गए,
जो कहते थे हम तो सदा है तुम्हारे,
जमाने मे सब से जिन्हे हम थे प्यारे,
वो ही आज हमसे जुदा हो गए…

90. ए दिल भूलता नही है मोहब्बते उसकी,
पडी हुई थी मुझे कितनी आदते उसकी,
ये मेरा सारा सफर उसकी ख्वाबों मे कटा,
मुझे तो राह दिखाती थी चाहते उसकी…

Shayari On Breakup

91. करोगे याद एक दिन प्यार के जमाने को,
चले जायेंगे जब हम कभी ना वापिस आने को,
करेगा महफिल मे जब जिक्र हमारा कोई,
तुम भी तन्हाई ढूंढोगे आँसू बहाने को…

92. हकीकत ना पूंछ मेरे फ़साने की,
तेरे जाते ही बदल गयी नज़र ज़माने की,
लोग पूछते है मैं खुश क्यों नहीं,
क्या कहूँ आदत थी तेरे संग मुस्कुराने की…

93. पलकों की नमी में छुपा कर सपनो को,
हमने उन्हें जाने की इजाज़त दे दी,
हम टूट कर बिखर गए टुकड़ों में,
और उन्हें मुस्कुराने की इजाज़त दे दी…

94. किसी को युही रुलाया नही करते,
झुठे ख्वाब किसी को दिखाया नही करते,
अगर कोई आपकी जिंदगी मे ख़ास नही है,
तो उसे रह रह कर ये एहसास दिलाया नही करते…

95. लोग कहते है जब कोई अपना दूर चला जाए तो तकलीफ होती है,
परंतु असली तकलीफ वो होती है,
जब कोई अपना पास होकर भी दूरिया बना ले…

96. चाहत पर अब ऐतबार ना रहा,
खुशी क्या है यह एहसास ना रहा,
देखा है इन आँखों ने टूटे सपनों को,
इसलिए अब किसी का इंतजार ना रहा…

97. लोग कहते है किसी के चले जाने से,
जिंदगी अधूरी नही होती,
लेकिन लाखों के मिल जाने से भी तो,
उस एक की कमी पूरी नही होती…

98. खुशी की राह मे गम मिले तो क्या करे,
वफा की राह मे बेवफाई मिले तो क्या करे,
कैसे बचाए जिंदगी को दगाबाजों से,
कोई दिल लगाके दे जाए दगा तो करे…

99. मोहब्बत की दास्तान सुनाने आए है,
तबाह करने के बाद वो प्यार जताने आए है,
आँसू पोंछ लिए थे हमने कब के,
मगर वो फिर से आज हमे रुलाने आए है…

100. वो मोहब्बत भी तेरी थी,
वो शरारत भी तेरी थी,
अगर कुछ बेवफाई थी,
तो वो बेवफाई भी तेरी थी,
हम छोड गए तेरा शहर,
तो वो हिदायत भी तेरी थी,
आखिर हम करते तो किससे करते तुम्हारी शिकायत,
वो शहर भी तुम्हारा था और अदालत भी तुम्हारी थी…

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Popular Articles